राहत इन्दोरी की जीवनी | Biography of Rahat Indori in Hindi - SSC EXAM LIVE

बुधवार, 12 अगस्त 2020

राहत इन्दोरी की जीवनी | Biography of Rahat Indori in Hindi


राहत इंदौरी: जन्म, प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

राहत इंदौरी का जन्म राहत कुरैशी के रूप में 1 जनवरी 1950 को इंदौर में रफतुल्लाह कुरैशी (पिता) और मकबूल उन निसा बेगम (मां) के रूप में हुआ था। उनके पिता एक कपड़ा मिल मजदूर थे और उनकी माँ एक गृहिणी थीं।

राहत इंदोरी ने अपनी स्कूली शिक्षा नूतन स्कूल से पूरी की। वर्ष 1973 में, उन्होंने इस्लामिया करीमिया कॉलेज, इंदौर से अपनी स्नातक की पढ़ाई की। वर्ष 1975 में, उन्होंने बरकतउल्ला विश्वविद्यालय, भोपाल से उर्दू साहित्य में स्नातकोत्तर किया।

वर्ष 1985 में, उन्हें उनकी थीसिस 'उर्दू मुख्य मुशायरा' के लिए मध्य प्रदेश के भोज विश्वविद्यालय से उर्दू साहित्य में पीएचडी से सम्मानित किया गया।

राहत इंदौरी: पर्सनल लाइफ

राहत इंदोरी ने 27 मई, 1986 को सीमा रहत से शादी की। दंपति की एक बेटी शिबिल और दो बेटे थे- फैसल राहत और सतलज राहत। उन्होंने तब 1988 में उर्दू और हिंदी भाषा की कवि अंजुम रहबर से शादी की और 1993 में दोनों अलग हो गए।

राहत इंदौरी: कैरियर

पूर्णकालिक कवि और गीतकार बनने से पहले, रहत इंदोरी ने देवी अहिल्या विश्व विद्यालय में 16 साल तक उर्दू साहित्य पढ़ाया। वह एक चित्रकार भी थे और उन्होंने कई बॉलीवुड पोस्टर और बैनर चित्रित किए।

पिछले 40-45 वर्षों से, राहत इंदौरी मुशायरों और कवि सम्मेलनों में सक्रिय रूप से प्रदर्शन कर रहे थे। राहत इंदौरी न केवल भारत में एक प्रसिद्ध कवि थे, बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक मान्यता प्राप्त उर्दू कवि भी थे। उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका, यूके, यूएई, कनाडा, सिंगापुर, मॉरीशस, केएसए, कुवैत, कतर, बहरीन, ओमान, पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल आदि में कई प्रदर्शन दिए हैं।

राहत इंदौरी: मौत

राहत इंदौरी ने 11 अगस्त, 2020 को अरबिंदो अस्पताल, इंदौर में 70 साल की उम्र में दो कार्डिएक अरेस्ट से पीड़ित होने के बाद अपनी अंतिम सांस ली। उन्होंने अपनी मृत्यु से एक दिन पहले COVID-19 पॉजिटिव का परीक्षण किया।

राहत इंदौरी: किताबें

1- रट

2- करो कादर या साही

3- मेरे बाड़े

4- धुप बहोत है

5- चांद पागल है

6- मौजूद

7- नराज

राहत इंदौरी: बॉलीवुड गाने

1- फिल्म मेरे तेरा आशिक के लिए मेरा ख्याल।

2- टुटा हुआ दिल तेरी हवाले फिल्म आशियाना के लिए।

3- फिल्म आशियान के लिए जिंदगी नाम की हमरी है।

4- आज Humne दिल का हर फिल्म सर के लिए किस्सा।

5- दिल जिगर के जान अछा है फिल्म जनम के लिए।

6- खुद्दार फिल्म के लिए तुमा क्या कोई प्यार मासूम।

7- फिल्म खुद्दार के लिए खातून हुमायूं खातून।

8- फिल्म खुद्दार के लिए तुमको मान नहीं।

9- फिल्म खुद्दार के लिए राते क्या मांगे सितार।

10- फिल्म मर्डर के लिए दिल मेरा है रोजा था।

11- मुन्नाभाई एमबीबीएस के लिए एम बोले।

12- फिल्म मुन्नाभाई एमबीबीएस के लिए चैन।

13- फिल्म मुन्नाभाई एमबीबीएस के लिए देहले आंखें में आंखें डाल के।

14- फिल्म मिशन कश्मीर के लिए धूमन धवन।

15- ये रिश्ता क्या कहलाता है के लिए ये रिश्ता क्या कहलाता है।

16- फिल्म क्रीब के लिए चोरी चोरी जब नाजरीन मिली।

17- फिल्म इश्क के लिए डेखो जानो हमम।

18- फिल्म इश्क के लिए नीन्द चुराये मेरी।

19- फिल्म बेगम जान के लिए मुर्शीदा।

20- कोइ फिल्म के लिए ऐ दिल है मुश्किल।

राहत इंदौरी: प्रसिद्ध कविताएँ / शायरी

1- बुलती है सागर जाने का,
वो दुनी है उधर जने का नै।

2- माई मर जाउँ से मेरी अलग पेहन लख देना,
लाहू से मेरि पशानी पे हिन्दुस्तान लख देना।

३- आख मैं पाणि राखो, हुंगो पे चिंगारी राखो,
झिन्डा रह गया है तो टर्कीबेहट में साड़ी राखो।

4- किसने दस्तक दी, दिल पे, क्या कहा है?
आप तोर है, बहार को है?

5- ये हल्दा से केसी दिन गुजारें वाला था,
माई बच भी जाटा से इक रोज मरन वाला था।

६- साभी का ख़ान शमिल है मुझसे है,
केसी के बाप का हिंदुस्तान थोरी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें