RLP - छात्र संघठन का नहीं होगा गठन - SSC EXAM LIVE

शनिवार, 13 जुलाई 2019

RLP - छात्र संघठन का नहीं होगा गठन

सुरेन्द्र दौतड़ की कलम से...


में पिछले 3 दिनों से दिल्ली में था और आने वाले छात्र संघ चुनावो के विषय में बेनीवाल जी से विस्तृत चर्चा की ।
वर्तमान समय के राजनितिक परिदृश्य को देखते हुए बेनीवाल जी RLP के छात्र संघठन को फ़िलहाल के लिए टाल दिया है। ऐसा निर्णय लेने के पीछे कई कारण है जिन्हें में सावर्जनिक रूप से तो नहीं बयान कर सकता बस सिर्फ इतना कह सकता हूँ की ये निर्णय बहुत सोच समझ कर लिया गया है।
चर्चा के दौरान बेनीवाल साहब इस बात से आहत थे की कॉलेज चुनाव से पहले जो भी छात्र नेता उनके पास मदद के लिए आये उनमे से किसी को भी निराश नहीं किया पर जब पलट कर साथ देने के बाद आई तो कोई आगे नहीं आया...

JNVU - जोधपुर का ही उदहारण ले लीजये । पिछले 2 साल से विश्वविद्यालय के चुनावो में साहब ने प्रत्यक्ष रूप से NSUI की मदद की पर चुनाव के बाद कार्यक्रम में बुलाना तो दूर किसी ने धन्यवाद तक नहीं दिया।
.

जोधपुर का तो छोड़िए साहब हमारे मिर्धा कॉलेज को ही ले लीजये पिछले साल जब हनुमान लोमरोड़ ABVP से चुनाव जीता तब मैंने उसे बहुत समझाया कि साहब को कार्यक्रम में बुलावो पर वो नहीं माना और BJP के सांसद साहब के नाम से कार्यक्रम के कार्ड छपवा दिए। में इस मामले में ABVP के जिला संयोजक दिनेश राम को दोष नहीं दूंगा क्योंकि उसको भी अपने संघटन के अनुसार कार्य करना होता है। इसके बाद सोशल मीडिया पर इस इस कार्यक्रम का खूब विरोध हुआ तभी आचार संहिता लग गयी ।
तब तक हमारे नए अध्यक्ष जी कांग्रेस की पूंछ पकड़ चुके थे। अबकी बार मुख्य अथिति बनाया गया पूर्व सांसद साहिबा को। इसका भी खूब विरोध हुआ., मैंने भी बहोत हाथ पांव पटके पर नतीजा निकला ढाक के तीन पात...
कार्यक्रम के दौरान 1 एडिशनल SP, 2 DSP , 7 थानेदार और 2 RAC की बटालियन बुलाकर कॉलेज को छावनी में तब्दील कर दिया और जोर शोर से कार्यक्रम हुआ।
अंत में अपनी बात खत्म करते हुए एक सवाल छोड़ कर जा रहा हूं कि वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए आरएलपी के समर्थक कार्यकर्ताओं को क्या करना चाहिए...??
1. क्या हमें निष्क्रिय हो जाना चाहिए अथवा एनएसयूआई या एबीवीपी को समर्थन कर देना चाहिए..??
2. या फिर सब लोग एकजुट होकर स्वतंत्र उम्मीदवार मैदान में उतारना चाहिए..??

सुरेन्द्र दौतड़
पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष


2 टिप्‍पणियां: