प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सौभाग्य योजना - SSC EXAM LIVE

सोमवार, 10 सितंबर 2018

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सौभाग्य योजना



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर घर तक बिजली पहुंचाने के लिए सौभाग्य योजना को लांच किया है। योजना की लांचिंग के साथ पीएम मोदी ने दीनदयाल ऊर्जा भवन का लोकार्पण किया।

पीएम मोदी ने अपनी इस महत्वकांक्षी योजना को 'प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना' सौभाग्य नाम दिया है।


जिन लोगों का नाम 2011 की सामाजिक आर्थिक जनगणना में है, उन्हें सरकार मुफ्त में बिजली कनेक्शन देगी।

वहीं जिन लोगों का नाम जनगणना में नहीं था उनको भी सरकार ने निराश नहीं किया है। उन लोगों को 500 रुपये बिजली कनेक्शन के लिए जमा कराने होंगे। अगर किसी गरीब के पास 500 रुपये नहीं है तो वो किस्तों में ये राशि अदा कर सकता है।

इस योजना के तहत सभी घरों को रोशन करने का लक्ष्य रखा गया है।

इस योजना में फंड की कमी न आए, इसलिए केंद्र सरकार ने इसके लिए 16 हजार करोड़ रुपये का बजट रखा है।

सौभाग्य योजना के साथ पीएम मोदी ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्म(26 - सितम्बर) शताब्दी पर पंडित दीनदयाल ऊर्जा भवन को लोकार्पण किया।

बिजली मिलने से शैक्षिक सेवाओं में सुधार होगा।

हर घर तक बिजली पहुंचाने के लक्ष्य को 31 मार्च 2019 तक पूरा किया जाएगा।

जहां बिजली नहीं पहुंचाई जा सकेगी उन्हें 200 से 300 वीपी सोलर पावर पैक दिया जाएगा, जिसमें 5 एलईडी बल्ब, एक डीसी फैन, एक दस पावर प्लग, दिया जाएगा।

5 साल तक मरम्मत का खर्च उठाएगी सरकार और 5 LED बल्ब, बैटरी और एक पंखे के लिए बिजली मुफ्त में मिलेगी।

सरकार का कहना है कि अब मिट्टी के तेल का विकल्प बिजली होगी।

सरकार का मकसद संचार सेवाओं को बेहतर करना है।
उज्जवला योजना के जरिए हर घर पहुंचाया गया एलपीजी

वहीं इससे पहले पीएम मोदी ने उज्जवला योजना के जरिए हर घर तक एलपीजी गैस का कनेक्शन पहुंचाया था। रिपोर्ट के मुताबिक पिछले तीन सालों में 5 करोड़ बीपीएल परिवार को एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध करवाया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें